आंध्र प्रदेश : आदिवासी और ग्रामीण जीवन देखने का शौक है तो आयें मारेडूमिली

0

आंध्र प्रदेश में मारेडूमिली हरे-भरे ताड़ और बांस के पेड़ों से घिरा है। पर्यटन की दृष्टि से यह जगह ज्यादा लोकप्रिय नहीं है और इसी वजह से इस शहर में राज्य के सबसे विस्तृत और उत्तम वन्यजीव और पौधों की प्रजातियां देखने को मिलती हैं। आदिवासी और ग्रामीण जीवन को देखने का शौक है तो आप इस छोटे से शहर की यात्रा कर सकते हैं। मारेडूमिली प्राकृतिक सुंदरता का प्रतीक है।

मारेडूमिली कैसे पहुंचे

हवाई मार्ग द्वारा: मारेडूमिली का निकटतम हवाई अड्डा राजमुंदरी में स्थित है, जो इस जगह से लगभग 85 किलोमीटर दूर है। हवाई अड्डे से नियमित कैब सेवाएं उपलब्ध हैं।
रेल मार्ग द्वारा: निकटतम रेलहेड शहर से 85 किमी की दूरी पर राजमुंदरी में है।
सड़क मार्ग द्वारा: भारत के अन्य प्रमुख शहरों से मारेडूमिली अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। इसके बस टर्मिनल से नियमित बसें उपलब्ध हैं।

मारेडूमिली आने का सही समय

सर्दियों के महीने नवंबर-दिसंबर के दौरान इस शहर की यात्रा कर सकते हैं। इस दौरान यहां का तापमान 20 डिग्री सेल्सियस से 25 डिग्री सेल्सियस तक रहता है।

मारेडूमिली के दर्शनीय स्थल

1)स्वर्णधारा और रम्पा झरना
स्वर्णधारा और रम्पा झरना मारेडूमिली में पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र हैं। आम के पेड़ों से घिरी यह जगह ट्रैकिंग के शौकीनों के लिए बेहतरीन है। यहां हल्कीत सी ढलान भी खतरनाक होती है। इस जगह पर आपको चारों ओर मोरों का झुंड नज़र आएगा। स्वर्णधारा और रम्पाय झरने शिव मंदिर से निकलते हैं।

2) कार्तिक वन और द वाली सुग्रीव औषधीय पौधे संरक्षण क्षेत्र
मारेडूमिली में कार्तिक वन क्षेत्र के खंड हरे भरे प्राकृतिक वनस्पतियों से परिपूर्ण हैं। यह क्षेत्र प्राकृतिक वनस्पति और औषधीय जड़ी बूटियों एवं पौधों भरा है। औषधीय पौधों की 203 विभिन्न प्रजातियों में से यहां पर आंवला के पेड़ भी मौजूद हैं। संरक्षण क्षेत्र में औषधीय पौधों पर शोध करने वाले वैज्ञानिकों के लिए एक ये खुली प्रयोगशाला है।

3) जलतरंगिनी झरना
मारेडूमिली में कई खूबसूरत और कलकल करते झरने मौजूद हैं जिनमें से एक जलतरंगिनी झरना भी है। ये झरना घने जंगल से निकलती चांदी की धाराओं जैसा प्रतीत होता है। इस झरने के प्राकृतिक सौंदर्य को देखकर आपका मन मंत्रमुग्धि हो जाएगा। प्रकृति के इस खूबसूरत उपहार और शांत वातावरण में मन को सुकून मिलेगा।

4) मदन कुंज-विहार स्थल
इस शहर में मदनकुंज-विहार स्थाल भी है जहां आप अपने परिवार या पार्टनर के साथ पिकनिक या थोड़ा अच्छास समय बिता सकते हैं। इसके अलावा मनोरंजक गतिविधियों के लिए भी ये एक शानदार जगह है। इस जगह आकर आपको ऐसा लगेगा कि आप असीम प्रकृति एवं प्राकृतिक सौंदर्य के बेहद करीब आ गए हैं। चारों ओर हरियाली और तरोताजा कर देने वाले नज़ारों को देखकर आप मन खुशी से झूम उठेगा। मदनकुंज-विहार स्थल में बड़ी संख्या में देवदार के पेड़ और गोल्डन बैम्बू के झुरमुट देखने को मिलते हैं। यहां बड़ी संख्या में जंगली जानवरों जैसे पैंथर, बाइसन, जंगल फाउल इत्यादि रहते हैं।

टिप्पणियाँ लिखे

आपका ईमेल प्रकाशित नहीं किया जाएगा।