चाय के बागानों का खूबसूरत स्‍थल – डिब्रूगढ़

0

डिब्रूगढ़ शहर अपने आप में एक सौंदर्य है, जिसके एक तरफ छल-छल करती हुई गिरती ब्रह्मपुत्र नदी तो दूसरी ओर शहर के किनारों पर हिमालय की शृंखलाएं नीचे की ओर जाती हुई दिखाई देती हैं। असम के सबसे शानदार शहरों में से एक होने के नाते, डिब्रूगढ़ पर्यटन में शांति, सुंदरता, इतिहास के रंग और अत्याधिक हरियाली की चाहत रखने वाले यात्रियों के लिए कई चीजें हैं।

डिब्रूगढ़ और आसपास के पर्यटक स्थल
डिब्रूगढ़ चाय बागानों की एक यात्रा असम की चाय दुनिया भर में जानी जाती है। और जब यह असम की चाय होती है, तब कोई पुराने शहर जैसे डिब्रूगढ़, टिंसुकिया और सिबसागर में नहीं जा सकता। जबकि वास्तव में, राज्य में 50% से अधिक चाय का उत्पादन इन तीन स्थानों में ही होता है। डिब्रूगढ़ को भारत का ‘चाय का शहर’ भी कहा जाता है। शहर भर में कई चाय के बागान हैं, जो ब्रिटिश के समय से हैं। डिब्रूगढ़ पर्यटन इन चाय के बागानों के बिना अधूरा है।

डिब्रूगढ़ पर महान ब्रह्मपुत्र के वरदान और अभिशाप
भारत में ब्रह्मपुत्र नदी विशाल नदियों में से एक मानी जाती है। हर साल यह हिमालय से वृहद रूप में नीचे आती है, शहरों और जंगलों को बाढ़ से ढक लेती है। डिब्रूगढ़ भी ब्रह्मपुत्र के बेहिसाब प्रवाह का एक बड़ा हिस्सा देखता है। फिर भी यह शहर की सुंदरता को बढ़ाती है और जब शांत गति में रहती है तो इसे शांत बनाती है। डिब्रूगढ़ अशांत नदी के प्रकोप से नहीं बच पाया और बार-बार इसने शहर के प्रमुख अंश को उजाड़ने वाली विनाशकारी बाढ़ को देखा है।

डिब्रूगढ़ सतराओं की धार्मिक यात्रा
डिब्रूगढ़ के सतरा डिब्रूगढ़ पर्यटन के अभिन्न रूप हैं। अहोम राजाओं द्वारा पीछे छोड़ दी गई सांस्कृतिक धरोहरों सामाजिक, सांस्कृतिक और साथ ही धार्मिक संस्थाओं को सतरा कहा जाता है। यही सतरा ही डिब्रूगढ़ पर्यटन के प्रमुख आकर्षण हैं। डिब्रूगढ़ की यात्रा दिन्जोय सतरा, कोली आई थान और दिहिंग सतरा घूमे बगैर अधूरी मानी जाती है। कोली आई थान असम में सबसे पुराना ‘थान’ माना जाता है, वहीं दिन्जोय सतरा और दीहिंग सतरा दोनों इतिहास और विरासत के साथ प्रभावकारी रूप से स्‍थापित हैं। आज ये सतरा असम की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत के मूर्त रूप बन गए हैं।

डिब्रूगढ़ तक कैसे पहुंचें
डिब्रूगढ़ ट्रेनों, विमानों और सड़क परिवहन के माध्‍यम से देश के बाकी हिस्सों से अच्छी तरह जुड़ा है। दिलचस्प बात है कि, देश के पूरबी शहर में डिब्रूगढ़ एक ऐसा शहर है जहां रेलवे स्टेशन है। यहां पर एक हवाई अड्डा भी है। डिब्रूगढ़ का मौसम डिब्रूगढ़ में साल भर एक सुखद मौसम रहता है। यहां का जलवायु पर्यटकों को वर्ष के किसी भी समय इस जगह की यात्रा करने के लिए संभव बनाता है।

इसलिए है प्रसिद्ध – चाय बागान

सबसे अच्छा मौसम – जनवरी – दिसम्बर

टिप्पणियाँ लिखे

आपका ईमेल प्रकाशित नहीं किया जाएगा।