देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल

0

इंदौर में पर्यटकों के लिए, सौंदर्य महलों, शानदार स्‍मारकों और मनमोहक धार्मिक स्‍थलों का संगम है। इन सभी स्‍थलों का सुंदर विलय इंदौर में देखने का मिलता है। इस तरह के सभी पर्यटन स्‍थलों में इंदौर, भारत के सर्वाधिक लोकप्रिय पर्यटन स्‍थलों में से गिना जाता है। जब आप इंदौर की सैर पर जाएंगे तो वहां आप रजवाड़ा, एक शानदार महल, कांच का मंदिर, एक तेजस्‍वी ग्‍लास मंदिर, बीजासेन टेकरी जहां से शहर की शानदार झलक देखने को मिलती है, लालबाग पैलेस जो होलकर शासकों के महान रहन – सहन और रखरखाव को दर्शाता है, पाटलपानी झरना जो एक प्राकृतिक आश्‍चर्य है, मेघदूत उपवन जो अद्वितीय सौंदर्य से भरा उद्यान है, और गांधी हॉल जो शहर में मील के पत्‍थर के नाम से जाना जाता है, को देख और घूम सकेंगे।
इसके अलावा, इंदौर में गीता भवन भी बना हुआ है जहां इंदौर और उसके आसपास के क्षेत्रों के हर धर्म के लोग प्रार्थना की करने आते है। यहां स्थित इंदौर संग्रहालय, शहर की विरासत और संस्‍कृति की रक्षक है जहां इतिहास से जुड़े कई दस्‍तावेज संभालकर रखे गए है। इंदौर में अन्‍य प्रमुख आकर्षण भी है जहां पर्यटक भ्रमण कर सकते है।

खजराना मंदिर-

खजराना मंदिर भगवान गणेश का एक सुन्दर मंदिर है। ये मंदिर विजय नगर से पास है। ये मंदिर अहिल्या बाई होलकर ने दक्षिण शैली में बनवाया था। यह मंदिर इन्दौरवासियों की आस्था का केंद्र है। यहाँ पर भगवान गणेश के साथ माता दुर्गा, लक्ष्मी, साईबाबा आदि भगवान के मंदिर हैं।

राजबाड़ा-

यह शहर के बीचोंबीच स्थित है। 1084 के दंगों के समय इसमें आग लग जाने से इसको बहुत क्षति पहुँची थी। उसके बाद इसको कुछ सीमा तक पुनर्निर्मित करने का प्रयत्न किया गया है।

कांच मन्दिर-

यह एक जैन मन्दिर है जिसमें दीवारों पर अन्दर की तरफ कांच से सजाया गया है।

नाहर शाह वली दरग़ाह-

हजरत नाहर शाह वली दरगाह इंदौर की सबसे पुरानी दरगाह है और खजराना क्षेत्र में स्थित है।

कृष्णपुरा की छतरियाँ-

काह्न नदी के किनारे होलकर काल में बनाई गई छतरियाँ हैं। यह स्थान राजबाड़े से लगभग 100 मीटर की दूरी पर है।

इसके अलावा अन्य आकर्षण स्थलों में बड़ा गणपती मन्दिर लालबाग, मल्हार आश्रम, बिजासन माता मन्दिर, अन्नपूर्णा देवी मन्दिर, यशवंत निवास, जमींदार बाडा, हरसिद्धी मंदिर, पंढ़रीनाथ, टाउन हॉल, अहिल्याश्रम, छत्रीबाग, माणिक बाग, सुखनिवास, फूटीकोठी, दुर्गादेवी मंदिर, इमामबाडा, श्री ऋद्धि सिद्धि चिन्तामन गणेश मंदिर आदि शामिल हैं।

टिप्पणियाँ लिखे

आपका ईमेल प्रकाशित नहीं किया जाएगा।