भारत का प्रमुख औद्योगिक शहर – बोकारो

0

सन् 1991 में स्थापित बोकारो झारखण्ड राज्य का एक जिला है। समुद्रतल से 210 मीटर की ऊँचाई पर बोकारो छोटानागपुर के पठार पर स्थित है। शहर मुख्यतः घाटियों और धाराओं से बना है। बोकारो भारत के प्रमुख औद्योगिक क्षेत्रों में से एक है। 2011 की जनगणना के अनुसार बोकारो की जनसंख्या 20 लाख है। बोकारो की सबसे प्रमुख बात यहाँ का स्टील प्लांट है जो पूरे एशिया में सबसे बड़ा है। जाना माना पर्यटक स्थान होने के साथ-साथ बोकारो स्टील अथॉरिटी ऑफ इण्डिया, भारत रिफ्रैक्ट्रीस लिमिटेड, हिन्दुस्तान स्टील वर्क्स कंस्ट्रक्शन, दामोदर वैली कॉर्पोरेशन जैसी कई प्रमुख कम्पनियों के लिये केन्द्र है। बोकारो यहाँ के लोगों को गुणवत्तापरक शिक्षा प्रदान करता है।

बोकारो मौसम

दामोदर नदी के दक्षिमी किनारे पर सटीक वातावारण के साथ स्थित बोकारो शहर में पारसनाथ पहाड़ियाँ, गर्गा नदी और पास में सतनपुर की पहाड़ियाँ हैं। शहर में सर्दियों के 2 डिग्री सेल्सियस तापमान और गर्मियों के 45 डिग्री सेल्सियस तापमान के साथ कठोर मौसम पाया जाता है। पर्यटकों को यह ध्यान रखना चाहिये कि बोकारो के मौसम में ठंडक अक्तूबर से फरवरी रहता है तथा मार्च से मई के अक्सर गर्म होता है और बोकारों में बरसात का मौसम जून से सितम्बर के बीच रहता है।

बोकारो कैसे पहुँचें

चूँकि बोकारो शहर देश के प्रमुख हिस्सों से भली भाँति जुड़ा है इसलिये पर्यटकों के लिये यहाँ पहुँचना आसान है। कोलकाता, दुर्ग, कोयम्बटूर, नईदिल्ली, चेन्नई, हैदराबाद, मुम्बई, लखनऊ, गुवाहाटी, अमृतसर, पटना, वाराणसी, विशाखापट्नम कुछ महत्वपूर्ण स्थान हैं जहाँ के लिये बोकारो से गाड़ियाँ उपलब्ध हैं। मुख्य रेलवेस्टेशन शहरे से मात्र 12 किमी की दूरी पर है और अधिकतर मेल व एक्सप्रेस गाड़ियाँ यहाँ रूकती हैं। पर्यटक बसों द्वारा भी बोकारो पहुँच सकते हैं। नया मोरे बोकारो का प्रमुख बस स्टेशन है जबकि सेक्टर-9 में बसन्ती मोरेदो और चास में धर्मशाला मोरे दो और बस स्टेशन हैं।

टिप्पणियाँ लिखे

आपका ईमेल प्रकाशित नहीं किया जाएगा।