भारत का सिल्क शहर है भागलपुर

0

भागलपुर को भारत का सिल्‍क शहर कहा जाता है जो बिहार राज्‍य में स्थित है और यह शहर, उच्‍च गुणवत्‍ता वाले रेशम के उत्‍पादन के लिए जाना जाता है। यह राज्‍य के बड़े शहरों में से एक है और इस शहर में विकसित बुनियादी सेवाएं उपलब्‍ध है। इस शहर का इतिहास एक निर्विवाद रूप से आज भी उपस्थित है और दर्शाता है कि भागलपुर लगभग 7 वीं शताब्‍दी में स्‍थापित शहर है।

पहले भागलपुर एक बंदरगाह था और यहां खुदाई के दौरान कई सिक्‍के और पुरानी नाव बरामद हुई जो मध्‍य पूर्व के विभिन्‍न स्‍थानों की थी। भागलपुर पर्यटन की संस्‍कृति में भारतीय संस्‍कृति की झलक और जीवंतता आज भी देखने को मिलती है।

भागलपुर में मुहर्रम बड़े स्‍तर पर बनाया जाता है। इस शहर का नाम भागलपुर, भगदपुरम् के नाम पर रखा गया जिसका अर्थ होता है – अच्‍छा भाग्‍य। यहां की प्राकृतिक सुंदरता और परफेक्‍ट लोकेशन के कारण, गंगाजल, रेनकोट जैसी कई फिल्‍में भी यहीं शूट की गई थी। गैंग ऑफ वासेपुर 2 को भी यही शूट किया गया था। भागलपुर शहर, पवित्र नदी गंगा के समानान्‍तर, राष्‍ट्रीय राजमार्ग 80 के द्वारा राज्‍य के पटना और अन्‍य शहरों से भली प्रकार से जुड़ा हुआ है। यहां के चांदी से चमचमाते रेतीले तटों पर आम के पेड़ और लीची के पेड़ भारी संख्‍या में लगते है। यहां मक्‍के की पैदावार भारी मात्रा में होती है। यहां के तटों पर लाइन से ईटें बनाने वाले भट्टे लगे हुए है जिनकी चिमनियां भी बनी हुई है।

भागलपुर का सिल्‍क
भागलपुर की विशेष उपलब्धि यहां बनने वाला सिल्‍क है, कई पीढियां कई सालों से इस काम में लगी हुई है। सरकार ने भागलपुर में रेशम संस्‍थान की स्‍थापना की है ताकि रेशम की बुनाई को प्रोत्‍साहित किया जा सके। भागलपुर में रेशल का उद्योग 200 साल से भी अधिक समय पुराना है, इस उद्योग को सेरीकल्‍चर कहा जाता है। भागलपुर सिल्‍क को तुस्‍सा या तुषार सिल्‍क के नाम से जाना जाता है।

भागलपुर की सैर का सबसे अच्‍छा समय
भागलपुर की सैर का सबसे अच्‍छा समय अक्‍टूबर से मार्च के दौरान होता है, इस दौरान मौसम ठंडा और हल्‍का होता है।

भागलपुर कैसे पहुंचे
भागलपुर, सड़क मार्ग द्वारा अच्‍छी तरह जुड़ा हुआ है, यह सभी राज्‍यों और शहरों से यातायात के लगभग सभी साधनों से जुड़ा है। राज्‍य के हिस्‍सों से भागलपुर तक बस से जा सकते है। यहां के लिए ट्रेन भी उपलब्‍ध है। भागलपुर सरकार द्वारा, पर्यटकों के लिए विशेष व्‍यवस्‍था का आयोजन किया गया है।

टिप्पणियाँ लिखे

आपका ईमेल प्रकाशित नहीं किया जाएगा।